24

May 2018
नेशनल न्यूज़

बजट से नाराज किसान संगठनों का सरकार के खिलाफ हल्लाबोल, 7 फरवरी से देशभर में प्रदर्शन

February 06, 2018 09:53 AM

नई दिल्ली। बजट में की गई फसल के न्यूनतम समर्थन मूल्य संबंधी घोषणा से किसान संगठनों खुश नहीं है। एमएसपी के गलत आकलन से नाराज किसान संगठनों ने केंद्र सरकार के खिलाफ मोर्चा खोल दिया। नाराज किसान संगठनों ने सात फरवरी से देशव्यापी प्रदर्शन करने का ऐलान किया है जो हफ्ते भर चलेगा। किसान संगठनों का आरोप है की केंद्र सरकार ने 2019 में होने वाले लोकसभा चुनावों को सामने रख कर किसानों को लुभाने के लिए उनकी आमदनी बढ़ाने और न्यूनतम समर्थन मूल्य को लागत से डेढ़ गुना करने की बात तो की है, लेकिन ये सब कागजी है। किसान संगठनों का कहना है कि सरकार का खेती की लागत तय करने का तरीका गलत है, क्योंकि वह किसान यानी परिवार के मुखिया को छोड़ कर उसके परिवार को अकुशल मजदूर मानती है, जबकि किसान का पूरा परिवार खेती करता है। इसलिए पूरे परिवार को स्किल्ड यानी कुशल मजदूर माना जाए। खेती की लागत तय करते वक्त जमीन का किराया भी जोड़ा जाए, क्योंकि किसानों का एक बड़ा वर्ग खेत किराए पर लेकर खेती करता है। सरकार किसानों को सब्सिडी के नाम पर कुछ रियायतें तो देती है लेकिन खेती की लागत तय करते समय सब्सिडी घटा देती है। किसान संगठन चाहते हैं की सरकार एमएसपी तय करते समय सब्सिडी को लागत से ना घटाए। भारतीय किसान यूनियन के सचिव डॉ सुदर्शन पाल के मुताबिक सरकार द्वारा तय की गई एमएसपी किसान की खेती की लागत का डेढ़ गुना तो दूर उसकी असली लागत भी नहीं दिला पाएगी। इसलिए एमएसपी का निर्धारण सही हो और उसके लिए अलग से कोई फंड का प्रावधान हो।

Have something to say? Post your comment
और नेशनल न्यूज़
ताजा न्यूज़
Copyright © 2016 adhuniktimes.com All rights reserved. Terms & Conditions Privacy Policy